Welcome to Gam Shayari

Itna Yaad Na Aaya Karo

Itna Yaad Na Aaya Karo

इतना याद न आया करो कि रात भर सो न सकें। सुबह को सुर्ख आँखों का सबब पूछते हैं लोग। Itana Yad Na Aaya Karo, Ki Rat Bhar So Na...
Anjaam Kaun Janta Hai

Anjaam Kaun Janta Hai

प्यार का अंजाम कौन सोचता है, चाहने से पहले नियत कौन देखता है. मोहब्बत है एक अँधा एहसास, करते हैं सब पर मुकाम कौन जानता है... Pyar ka anjam kaun...
Kisi Aur Se Dil Laga Baithe

Kisi Aur Se Dil Laga Baithe

कितना बेबस है इंसान किस्मत के आगे, कितने दूर है सपने हक़ीक़त के आगे, कोई रुकी हुई धड़कन से पूछे, कितना तड़पता है दिल मोहब्बत के आगे… Kitna Bebas Hai...
Fir Sapne Sajane Chala Hun

Fir Sapne Sajane Chala Hun

फिर से वो सपना सजाने चला हूँ, उमीदों के सहारे दिल लगाने चला हूँ, पता है कि अंजाम बुरा ही होगा मेरा, फिर भी किसी को अपना बनाने चला हूँ।...