Bewafa Nahi Aayi Mere Janaje Par

जनाजा मेरा उठ रहा था
फिर भी तकलीफ थी उसे आने में
बेवफा घर में बैठी पूछ रही थी
और कितनी देर है दफनाने में!


Janaja Mera Uth Raha tha
Fir Bhi Takalif thi Use Aane Mein
Bewafa ghar Me Baithi Puch rahi thi
Aur Kitna Wakt Lagega Dafanane Mein..!!!


Bewafa Nahi Aayi Mere Janaje Par
Bewafa Nahi Aayi Mere Janaje Par

जो भी मिला वह हम से खफा मिला
देखो दोस्ती का क्या सिला मिला
उम्र भर रही फ़क़त वफ़ा की तलाश
पर हर शख्स मुझ को बेवफ़ा मिला


Jo Bhi Mila Woh Ham Se Khafa Mila
Dekho Dosti Ka Kya Sila Mila
Umar Bhar Rahi Faqat Wafa Ki Talash
Par Har Shaks Mujh Ko Bewafa Mila


वफ़ा के बदले बेवफाई ना दिया करो
मेरी उम्मीद ठुकरा के इनकार न किया करो
तेरी मोहब्बत में हम सब कुछ खो बैठे
जान चली जायेगी इम्तिहान ना लिया करो


Wafa K Badle Bewafai Na Diya Kro
Meri Ummid Thukra Ke Inkaar Na Kiya Kro
Teri Mohabbat Me Hum Sab Kuch Kho Bethe
Jaan Chali Jayegi Imtihan Na Liya Kro

Leave a Comment

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published.