Bewafa Shayari in Hindi – 💘 बेवफा शायरी – Bewafai Shayari for Sad Lovers

Bewafa Shayari in Hindi:- Are you looking for Bewafa Bhari Shayari in Hindi for Sad Lovers? So, this is the right place to read Hindi Bewafai Shayari for Broken Heart lovers. Here we have shared the new collection of Bewafa Shayari for Girlfriend in Hindi that you easily read and copy these Shayari by clicking on the copy button.

In this post, we have shared a collection of new Bewafa Shayari which you can read and share with the person who has betrayed you so that he/she thinks about you before committing infidelity to someone else. Here you will find a huge collection of the Latest Bewafa Shayari and SMS which you can read and you can also share with your Bewafa lover. So that the one who is unfaithful to you remembers you for a lifetime and cries out. We hope that you’ll like this post very much.


Bewafai Shayari In Hindi


मोहब्बत ने आज हमको रुला दिया
जिस पर मरते थे उसने ही भुला दिया
उसकी याद भुलाने के लिए आँसू पीता गया
एक दिन बेवफा ने उसमे भी ज़हर मिला दिया

वो बेवफा हमारा इम्तिहां क्या लेगी,
जब मिलेगी तो नजर झुका लेगी,
उसे मेरी कबर पर दीया जलाने को मत कहना
नादान है अपना हाथ जला लेगी

बिखरे हुए रिश्ते की कीमत ही क्या,
जब तोड़नेवाला ही न जानता हो,
बेवफ़ा से प्यार की उम्मीद ही क्या,
जब वो निभाना ही न जानता हो…

वफ़ा के नाम से वो अनजान थे,
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे,
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला,
हम खुद ही बेवफा के नामसे बदनाम थे

खा कर ज़ख़्म दुआ दी हमने,
बस यूही उमर बीता दी हमने,
देख कर जिसको दिल दुखता था,
आज वो तस्वीर जला दी हमने!!

Bewafa Shayari in Hindi
Bewafa Shayari in Hindi

धीरे धीरे दूर होते गए,
वक़्त के आगे मजबूर होते गए,
इश्क़ में हमने ऐसी चोट खाई
हम बेवफा और वो बेक़सूर होते गए

इतने ज़ख्म खाये हुए है,
अब इश्क़ भी होता नहीं,
डर लगता है इस ज़माने में,
कहीं सब बेवफा तो नहीं

मेरा साया भी मुझसे जुदा मिला,
सोचा तो हर किसी से मेरा सिलसिला मिला
शहर-ए-बेवफा में किसे इश्क़-ए-वफ़ा कहें
हमसे गले मिले वो भी बेवफ़ा मिला

ज़ेहर माँगा तो बस दुहाई मिली,
प्यार माँगा तो सिर्फ रुस्वाई मिली,
साथ माँगा तो हमें तन्हाई मिली,
और वफ़ा चाहा तो बेवफाई मिली

कुछ वक़्त तन्हाई में बीते
तो कुछ यादें ताज़ा हो गयी
राह में मिला था कोई साथी
कैसे मुझसे बेवफा हो गयी

इतनी मुश्किल भी ना थी
राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ
कुछ वो बेवफा हो गए!!

Bewafai Shayari in Hindi
Bewafai Shayari in Hindi

फिर कब मिलेंगे यह उन्होंने पूछा नहीं
क्यों हो रहे हैं जुदा यह हमने बताया नहीं
कब उनके आंसुओं ने हमको बेवफा कहा पता ही नहीं
बस वो वक़्त ही कुछ ऐसा था जिसको हमने पहचाना नहीं…

दर्द दे गयी,तड़प दे गयी,
जाते जाते गम जुदाई का दे गयी,
साथ देना तेरे बस में नहीं था तो बेवफा
फिर मुझे क्यों ये रुस्वाई दे गयी…

मत ज़िकर करो अपनी अदा के बारे में
हम बहुत कुछ जानते हैं वफ़ा के बारे में
सुना है वो भी मोहबत का शौक़ रखने लगे हैं
जो जानते ही नहीं वफ़ा के बारे में

समझ लेते थे हम तुम्हारे दिल की बात को
तुम हमें हर बार धोखा देते थे
लेकिन हम भी मजबूर थे दिल क हाथो
जो तुमको बार बार मौका देते थे

मेहफिल न सही तन्हाई तो मिलती है,
मिलान न सही जुदाई तो मिलती है,
कौन कहता है की प्यार में कुछ नै मिलता,
वफ़ा न सही बेवफाई तो मिलती है

मैं नही जानता मुझसे खफा कौन है,
मैं ये जानता हू वफ़ा कौन है,
वो चली तो गयी है पर पता ये करना है की,
ज़िंदगी ओर उसमे बेवफा कौन है!!

Bewafai Shayari for Lovers in Hindi
Bewafai Shayari for Lovers in Hindi

हमने वक़्त से बहुत वफ़ा की..
लेकिन वक़्त हमसे बेवफ़ाई कर गया…
कुछ तो हमारे नसीब बुरे थे..
कुछ उनका हमसे जी भर गया…

अगर मोहब्बत की तिजारत का इतना शौक है
तो ये बात भी जान लो दोस्तों
यहाँ वफ़ा का कोई मोल नहीं होता
और बेवफाई बहुत अनमोल होता है

तू बेवफा होगी सोचा ही नहीं था
तू भी कभी खफा होगी सोचा ही नहीं था
जो गीत लिखे थे कभी प्यार पर तेरे
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था

अपना दिल अपनी तबाही का सबक होता है
यह जवानी का आलम ही अजब होता है
कौनसी बात ने किसका दिल तोड़ दिया
बोलने वाले को एहसास ही कब होता है

कर के बेवफाई मुस्कुराते हे वो,
दिल टूटता है तो शरमाते हे वो,
जख्म दिल का नहीं देख पाते हे वो,
तभी तो इस जहा में दिलरूबा कहलाते हे वो

कितना नाज़ था हमें तेरे प्यार पर,
आज वही प्यार ने शर्मिंदा कर दिया,
बहा था न कभी एक अश्क इन आँखों से
तेरे प्यार ने हमें आंसुओं का दरिया बना दिया..

तेरी तो फितरत थी
सबसे मोहब्बत करने की,
हम बेवजह खुद को
खुश नसीब समझने लगे।

Bewafa Shayari in Hindi
Bewafa Shayari in Hindi

इस तरह हम उनसे वफ़ा कर बैठे
की वो हमारी बेवफाई को सह भी न पाये
वो रोये हमसे लिपटकर किसी और के लिए
और हम उन्हें चुप करा भी न पाये

दिल जिस ने तोड़ा वो आज खुश बहुत है,
हम पी रहे हैं जाम और मदहोश बहुत हैं,
चाहते थे बद-दुआ देना पर बददुआ दे ना सके
हम बेवफा को बेवफा भी कह ना सके

किसी को आँखों में बसा के देखा था
किसी को दिल में बैठा के देखा था
अब तक रुके नहीं है आँसू
एक बेवफा से दिल लगा के देखा था

हम तो तेरी दिल की महफ़िल सजाने आए थे,
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आये थे,
किस बात की सजा दी तू ने हमको बेवफा
हम तो तेरे दर्द कम करने आये थे…

हर दिल का एक राज़ होता है
हर बात का एक अंदाज़ होता है
जब तक न लगे बेवफाई की ठोकर
हर किसी को अपनी प्यार पर नाज़ होता है

उनके बेवफाई पर वफ़ा हम करेंगे
याद को उनकी दिल से जुदा हम करेंगे
इतना चाहा फिर भी यकीन नहीं
ऐसे ज़िन्दगी जी कर क्या करेंगे


Bewafa Sad Shayari In Hindi


रुसवाईयों की बात क्यों करते हो
तन्हाईयों में याद क्यों करते हो।।
वफा नहीं करना तो कोई बात नहीं
बेवफाई की बात क्यों करते हो।।

Bewafai Bhari Shayariya
Bewafai Bhari Shayariya

हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे,
वो भी पल पल हमें आजमाते रहे,
जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया,
हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे।

क्या पता था प्यार करके दिल तोड़ जायेगी,
दिल मे प्यार भर के मुँह मोड़ जाएगी,
ऐ बेवफा,
तू जिससे भी दिल लगाएगी देखना,
कभी चैन की सांस ना ले पाएगी!!

अंजाने में हम अपना दिल गवां बैठे,
इस प्यार मे कैसा धोखा कर बैठे,
उनसे क्या गिला करे… भूल हमारी थी,
जो बिना दिलवालों से दिल लगा बैठे!!

ऐ बेवफा तेरी बेवफ़ाई में दिल बेकरार ना करूँ,
अगर तू कह दे तो तेरा इंतेज़ार ही ना करूँ,
तू बेवफा है तो कुछ इस कदर बेवफ़ाई कर,
कि तेरे बाद मैं किसी से प्यार ही ना करूँ।

मुझे उसके आँचल का आशियाना न मिला,
उसकी ज़ुल्फ़ों की छाँव का ठिकाना न मिला,
कह दिया उसने मुझको ही बेवफा…
मुझे छोड़ने के लिए कोई बहाना न मिला।

मेरे कलम से लफ्ज़ खो गए शायद
आज वो भी बेवफा हो गाए शायद
जब नींद खुली तो पलकों में पानी था
मेरे ख्वाब मुझ पे रो गाए शायद

 

मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम,
हमने हर दम बेवफाई पायी है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
हमने हर चोट दिल पे खायी है।

Bewafai Shayari for Girlfriend in Hindi
Bewafai Shayari for Girlfriend in Hindi

जिस किसीको भी चाहो वोह बेवफा हो जाता है,
सर अगर झुकाओ तो सनम खुदा हो जाता है,
जब तक काम आते रहो हमसफ़र कहलाते रहो,
काम निकल जाने पर हमसफ़र कोई दूसरा हो जाता है…

पत्थरों से प्यार किया नादान थे हम,
ग़लती हुई क्यू के इंसान थे हम,
आज जिन्हे नज़रे मिलने मे तकलीफ़ होती है,
कभी उसी शख्स की जान थे हम!!

कहते है हर बात जुबां से हम इशारा नहीं करते,
आसमान पर चलने वाले जमीं से गुज़ारा नहीं करते,
हर हालात को बदलने की हिम्मत है हम में,
वक़्त का हर फैसला हम गंवारा नहीं करते

वो पानी की लहरों पे क्या लिख रहा था,
खुदा जाने वो क्या लिख रहा था,
मोहब्बत में मिली थी नफरत उसे भी शायद,
इसलिए हर शख्स को शायद बेवफा लिख रहा था!!

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया!!

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी

न रहा कर उदास ऐ दिल
किसी बेवफा की याद में,
वो खुश है अपनी दुनिया में
तेरा सबकुछ उजाड़ के।

Bewafai Shayari for Girlfriend
Bewafai Shayari for Girlfriend

आग दिल में लगी जब वो खफ़ा हुए,
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए,
करके वफ़ा कुछ दे ना सके वो,
पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफ़ा हुए!!

प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना,
अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना,
वो चाहे लाख नफरते करें तुमसे,
पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम न करना।

दिल के दरिया मे धड़कन की कश्ती है,
ख्वाबो की दुनिया मे यादो की बस्ती है,
मोहब्बत के बाज़ार मे चाहत का सौदा,
वफ़ा की कीमत से तो बेवफ़ाई सस्ती है!!

गम इस बात का नही कि तुम बेवफा निकली,
मगर अफ़सोस ये है कि,
वो सब लोग सच निकले,
जिनसे मैं तेरे लिए लड़ा करता था!!

उनकी चाहत मे दिल मजबूर हो गया,
बेवफ़ाई करना उनका दस्तूर हो गया,
कसूर उनका नही मेरा था,
हमने चाहा ही इतना की उनको शायद गुरूर हो गया!

कुछ अजब रंग से गुज़री है ज़िंदगी अपनी,
दिलों पे राज किया फिर भी प्यार से महरूम रही,
हम वफ़ा कर के भी बन गये मुजरिम,
वो दगा देके भी मासूम रही!!

कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था, ✍
कि तुझे बेवफा भी ना कह सका..!!

Bewafa Shayari in Hindi
Bewafa Shayari in Hindi

मने तो अपनी मोहब्बत का इज़हार किया,
मगर उसने फिर भी ना हमारा एतबार किया,
मैं तो जहाँ से लड़ा, एक उसकी खातिर,
उस बेवफा ने शिकवा फिर भी हज़ार किया!!

ऐ बेवफा सांस लेने से तेरी याद आती बहुत है
ऐ बेवफा सांस न लूँ तो भी मेरी जान जाती है
मैं कैसे कह दूं कि मैं सांस से जिंदा हूँ मै
ये सांस भी तो तेरी याद आने के ही बाद आती है

ऐ बेवफा थाम ले मुझको मजबूर हूँ कितना
मुझको सजा न दे मैं बेकसूर हूँ कितना
तेरी बेवफ़ाई ने कर दिया है मुझे पागल
और लोग कहतें हैं मैं मगरूर हूँ कितना

तेरे दिए ज़ख्मो को दिल पे सज़ा के रखते हैं
ऐ बेवफा तुझे रात दिन हम याद करतें हैं
अजनबी से चेहरे भी अपने से लगने लगतें है
जब भी तेरे शहर से होकर गुजर ने लगतें हैं

दर्द ही सही मेरे इश्क़ का इनाम तो आया
खाली ही सही हाथों में जाम तो आया
मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने
यूँ ही सही उसके लबों पे मेरा नाम तो आया

यु तो कोई भी तनहा नहीं होता
छूट कर किसी से कोई जुदा नहीं होता
मोहब्बत को मज़बूरिया ले डूबती है
वरना ख़ुशी से कोई बेवफा नही होता


Dard 💘 Bhari Bewafai Shayari


बेवफायी का मौसम भी
अब यहाँ आने लगा है,
वो फिर से किसी और को
देख कर मुस्कुराने लगा है।

Bewafai Bhari Shayariya Hindi Mein
Bewafai Bhari Shayariya Hindi Mein

समझ न सके उन्हें हम,
क्योकि हम प्यार के नशे में चूर थे,
अब समझ में आया जिसपे हम जान लुटाते थे,
वो दिल तोड़ने के लिए मशहूर थे!!!

कभी जो हम से प्यार बेशुमार करते थे,
कभी जो हम पर जान निसार करते थे,
भरी महफ़िल में हमको बेवफा कहते हैं,
जो खुद से ज़्यादा हमपर ऐतबार करते थे।

दिल से रोए मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,
यूँही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे,
वो हमे एक लम्हा ना दे पाए अपने प्यार का,
और हम उनके लिए अपनी ज़िंदगी गवां बैठे!!

न प्यार से डर लगता हैं
ना जुदाई से प्यार कम होता हैं
मिलना बिछड़ना तो आम हैं यारों
लेकिन डर तो सनम की बेवफाई से लगता हैं!!!

मैंने प्यार किया बड़े होश के साथ!
मैंने प्यार किया बड़े जोश के साथ!
पर हम अब प्यार करेंगे बड़ी सोच के साथ!
क्योंकि कल उसे देखा मैंने किसी और के साथ!

अगर इतनी ही नफरत है हमसे तो,
दिल से ऐसी दुआ करो….!
की आज ही तुम्हारी दुआ भी पूरी हो जाये
और हमारी जिन्दगी भी….!! ✍

मेरी तलाश का है जुर्म
या मेरी वफा का क़सूर,
जो दिल के करीब आया
वही बेवफा निकला।

Bewafai Shayariya for Lovers
Bewafai Shayariya for Lovers

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ, ✍
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ..!!

हर हीरा चमकदार नहीं होता,
हर समंदर गहरा नहीं होता…
दोस्तो जरा संभल कर प्यार करना,
हर खूबसूरत चेहरा वफादार नहीं होता…

हर धड़कन में एक राज़ होता है
बात को बताने का एक अंदाज़ होता है
जब तक ठोकर न लगे बेवाफ़ाई की
हर किसी को अपने प्यार पर नाज़ होता है।

प्यार करने का हुनर हमें आता नहीं
इसीलिए हम प्यार की बाज़ी हार गए
हमारी ज़िन्दगी से उन्हें बहुत प्यार था
शायद इसीलिए वो हमें ज़िंदा ही मार गए!

वफ़ा के नाम से मेरे सनम अनजान थे,
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे,
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला…
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे।

हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।

पहले इश्क फिर धोखा
फिर बेवफ़ाई,
बड़ी तरकीब से
एक शख्स ने तबाह किया।

Bewafa Sad Shayari
Bewafa Sad Shayari

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला।

आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार पर तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

ये बेवफा वफा की कीमत क्या जाने,
है बेवफा गम-ऐ-मोहब्बत क्या जाने,
जिन्हें मिलता है हर मोड़ पर नया हमसफर,
वो भला प्यार की कीमत क्या जाने।

अगर दुनिया में जीने की चाहत ना होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनाई ना होती,
इस तरह लोग मरने की आरज़ू ना करते,
अगर मोहब्बत में बेवफ़ाई ना होती।

फ़ुलो के साथ कांटे नसिब होते है,
ख़ुशी के साथ गम भी नसिब होता है,
यु तो मजबुरी ले डुबती हर आशिक को,
वरना ख़ुशी से बेवफ़ा कौन होता है?

तेरी मोहब्बत ने दिया सुकून इतना,
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे,
तुझे करनी है बेवफ़ाई तो इस अदा से कर,
कि तेरे बाद कोई भी बेवफ़ा न लगे।

मेरी वफा के क़ाबिल नही हो तुम,
प्यार मिले ऐसे इन्सान नही हो तुम,
दिल क्या तुम पर ऐतबार करेगा,
प्यार मे धोखा दिया ऐसे बेवफा हो तुम।

Dard Bhari Bewafai Shayariya
Dard Bhari Bewafai Shayariya

नजर उनकी जुबाँ उनकी
अजब है कि इस पर भी,
नजर कुछ और कहती है
जुबाँ कुछ और कहती है।

तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी,
वरना हमको कहाँ तुम से शिकायत होगी,
ये तो वही बेवफ़ा लोगों की दुनिया है,
तुम अगर भूल भी जाओ जो रिवायत होगी।

हमारी तरफ अब वो कम देखते हैं,
ये वो नजरें नहीं जिनको हम देखते हैं।

चाहते हैं वो हर रोज़ नया चाहने वाला
ऐ खुदा मुझे रोज़ इक नई सूरत दे दे।

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला।

ढूंढ़ तो लेते अपने प्यार को हम,
शहर में भीड़ इतनी भी न थी,
पर रोक दी तलाश हमने,
क्योंकि वो खोये नहीं बदल गए थे।

जाते जाते उसने पलटकर सिर्फ इतना कहा मुझसे,
मेरी बेवफाई से ही मर जाओगे या मार के जाऊं।


Bewafa Shayari In Hindi For Lover


मेरी तलाश का है जुर्म
या मेरी वफा का क़सूर,
जो दिल के करीब आया
वही बेवफा निकला।

Teri Bewafai Shayari
Teri Bewafai Shayari

मेरी वफा के क़ाबिल नही हो तुम,
प्यार मिले ऐसे इन्सान नही हो तुम,
दिल क्या तुम पर ऐतबार करेगा,
प्यार मे धोखा दिया ऐसे बेवफा हो तुम।

खो गयी मेरी मोहब्बत, बेवफ़ाई के दलदल में,
मगर इन आँखो को अब भी वफ़ा की तलाश है।

तेरी बेवफाई ने हमारा ये हाल कर दिया है,
हम नहीं रोते लोग हमें देख कर रोते हैं।

जाते-जाते उसके आखिरी अल्फाज़ यही थे,
जी सको तो जी लेना मर जाओ तो बेहतर है।

मोहब्बत से रिहा होना ज़रूरी हो गया है,
मेरा तुझसे जुदा होना ज़रूरी हो गया है,
वफ़ा के तजुर्बे करते हुए तो उम्र गुजरी,
ज़रा सा बेवफा होना ज़रूरी हो गया है।

मेरी वफा फरेब थी मेरी वफा पे खाक डाल ।
तुझसा ही कोई बावफा तुझको मिले खुदा करे।

रात की गहरा आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई।

जिन फूलों को संवारा था
हमने अपनी मोहब्बत से,
हुए खुशबू के काबिल तो
बस गैरों के लिए महके।

Bewafa Shayari in Hindi
Bewafa Shayari in Hindi

कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे बेवफा भी ना कह सका।

आज तुम्हारी याद ने मुझे रुला दिया,
क्या करूँ तुमने जो मुझे भुला दिया,
न करते वफ़ा न मिलती ये सजा,
मेरी वफ़ा ने तुझे बेवफा बना दिया।

ये बेवफा वफा की कीमत क्या जाने,
है बेवफा गम-ऐ-मोहब्बत क्या जाने,
जिन्हें मिलता है हर मोड़ पर नया हमसफर,
वो भला प्यार की कीमत क्या जाने।

मिला के खाक में दिल को वो इस अंदाज़ में बोले,
मिट्टी का खिलौना था, कहाँ रखने के काबिल था।

दिल के दरिया में धड़कन की कश्ती है,
ख़्वाबों की दुनिया में यादों की बस्ती है,
मोहब्बत के बाजार में चाहत का सौदा है,
वफ़ा की कीमत से तो बेवफाई सस्ती है।

ऐसा नहीं कि आप हमें याद नहीं आते
माना कि जहाँ के सब रिश्ते निभाये नहीं जाते
पर जो बस जाते हैं दिल में वो भुलाए नहीं जाते
बेवफाओं से हर तरह के रिश्ते निभाये नहीं जाते।

वफाओं ​की बातें की हमने जफ़ाओं के सामने​​ ​
ले चले हम चिराग़ हवाओं के सामने​​ ​
उठे हैं जब भी हाथ बदली हैं क़िस्मतें​ ​
मजबूर है ​खुदा भी दुआओं के सामने​।

हर भूल तेरी माफ़ की..
हर खता को तेरी भुला दिया..
गम है कि, मेरे प्यार का..
तूने बेवफा बनके सिला दिया

Bewafa Shayari in Hindi for Girlfriend
Bewafa Shayari in Hindi for Girlfriend

वो बात ही कुछ अजीब थी वो हमसे रूठ गयी
जो दिल के सबसे करीब थी
उसने तोड़ दिया दिल हमारा
और लोग कहते है वो लड़की बहुत सरीफ थी

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला!
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी
हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला!

उन्होंने जो किया ये शायद उनकी फितरत है!
अपने लिये तो प्यार एक इबादत है!
न मिले उनसे तो मरकर बता देंगे!
कि कितनी मुहब्बत है इस दिल में!

प्यार किया था तो प्यार का अंजाम कहाँ मालूम था!
वफ़ा के बदले मिलेगी बेवफाई कहाँ मालूम था!
सोचा था तैर के पार कर लेंगे प्यार के दरिया को!
पर बीच दरिया मिल जायेगा भंवर कहाँ मालूम था!

दुनियाँ को इसका चेहरा दिखाना पड़ा मुझे
पर्दा जो दरमियां था हटाना पड़ा मुझे
रुसवाईयों के खौफ से महफिल में आज फिर
इस बेवफा से हाथ मिलाना पड़ा मुझे

​कहाँ से ​लाऊ हुनर उसे मनाने का​​
कोई जवाब नहीं था उसके रूठ जाने का​​
मोहब्बत में सजा मुझे ही मिलनी थी​​ क्यूंकी
जुर्म मैंने किया ​था ​उससे दिल लगाने का​।

ये मोहब्बत के हादसे अक्सर
दिलों को तोड़ देते हैं !
तुम मंजिल की बात करते हो
लोग राहों में ही साथ छोड़ देते हैं !

Bewafa Shayari in Hindi with Images for Girlfriend
Bewafa Shayari in Hindi with Images for Girlfriend

एक इंसान मिला जो जीना सिखा गया
आंसुओं की नमी को पीना सिखा गया
कभी गुज़रती थी वीरानों में ज़िंदगी
वो शख्स वीरानों में महफ़िल सजा गया।

आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार पर तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे,
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे,
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बूँद के लिए,
हम तो बादल है प्यार के
कहीं और बरस जायेंगे ।

भले किसी ग़ैर की जागीर थी वो,
पर मेरे ख्वाबों की तस्वीर थी वो,
मुझे मिलती तो कैसी मिलती
किसी और के हिस्से की तकदीर थी वो ।

जल-जल के दिल मेरा जलन से जल रहा,
एक अश्क मेरे आँख में मुद्दत से पल रहा,
जिसका मैं कर रहा हूँ घुट-घुट के इंतजार,
वो बेवफा ना आई मेरा दम निकल रहा।

खुश हूँ कि मुझको जला के तुम हँसे तो सही,
मेरे न सह
किसी के दिल में बसे तो सही।

वो बेवफा हर बात पे देता है परिंदों की मिसाल,
साफ साफ नहीं कहता मेरा शहर छोड़ दो।


Bewafa Shayari In Hindi For Girlfriend


कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे बेवफा भी ना कह सका।

Bewafa Shayari in Hindi 💘
Bewafa Shayari in Hindi 💘

इल्जाम न दे मुझको तूने ही सिखाई बेवफाई है,
देकर के धोखा मुझे मुझको दी रुसवाई है,
मोहब्बत में दिया जो तूने वही अब तू पाएगी,
पछताना छोड़ दे तू भी औरों से धोखा खायेगी।

ये नजर चुराने की आदत
आज भी नही बदली उनकी,
कभी मेरे लिए जमाने से और
अब जमाने के लिए हमसे।

एक बेवफा से प्यार का अंजाम देख लो,
मैं खुद ही शर्मशार हूँ उससे गिला नहीं,
अब कह रहे हैं मेरे जनाज़े पे बैठ कर,
यूँ चुप हो जैसे हमसे कोई वास्ता नहीं।

छोड़ गए हमको वो अकेले ही राहों में,
चल दिए रहने वो औरों की पनाहों में,
शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आई,
तभी तो सिमट गए वो गैर की बाहों में।

बेवफा से दिल लगा लिया नादान थे हम,
गलती हमसे हुई क्योंकि इंसान थे हम,
आज जिन्हें नज़रें मिलाने में तकलीफ होती है,
कुछ समय पहले उनकी जान थे हम।

ट्रैफिक सिग्नल पर आज उसकी याद आ गई,
रंग उसने भी अपना कुछ इसी तरह बदला था।

किस-किस को तू खुदा बनाएगी,
किस-किस की तू हसरतें मिटाएगी,
कितने ही परदे डाल ले गुनाहों पे,
बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी।

Teri Bewafai Shayari in Hindi
Teri Bewafai Shayari in Hindi

ये चिराग-ए-जान भी अजीब है…
कि जला हुआ है अभी तलक,
उसकी बेवफाई की आँधियाँ तो…
कभी की आ के गुजर गईं..!! ✍

महबूब की बेवफ़ाई में अक्सर
दिल अपने प्यार से नहीं
अपने आप से रूठ जाता हैं..!! ✍

मेरी मोहब्बत सच्ची है इसलिए तेरी याद आती है,
अगर तेरी बेवफाई सच्ची है तो अब याद मत आना।

वफ़ा पर हमने घर लुटाना था लेकिन,
वफ़ा लौट गयी लुटाने से पहले,
चिराग तमन्ना का जला तो दिया था,
मगर बुझ गया जगमगाने से पहले।

हर सितम सह कर कितने ग़म छिपाये हमने,
तेरी खातिर हर दिन आँसू बहाये हमने,
तू छोड़ गया जहाँ हमें राहों में अकेला,
बस तेरे दिए ज़ख्म हर एक से छिपाए हमने

तू तो हँस हँसकर जी रही है,
जुदा होकर भी..
कैसे जी पाया होगा वो,
जिसने तेरे सिवा जिन्दगी,
कभी सोची ही नहीं..

दिल किसी से तब ही लगाना
जब दिलों को पढ़ना सीख लो
वरना हर एक चेहरे की फितरत में
ईमानदारी नहीं होती। 💔 😢

Ishq Mein Bewafai Shayariya
Ishq Mein Bewafai Shayariya

समेट कर ले जाओ..
अपने झूठे वादों के अधूरे क़िस्से..
अगली मोहब्बत में तुम्हें फिर..
इनकी ज़रूरत पड़ेगी।

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला ।

उसके चले जाने के बाद..
हम महोबत नहीं करते किसी से..
छोटी सी जिन्दगी है..
किस किस को अजमाते रहेंगे

मौहब्बत की मिसाल में,
बस इतना ही कहूँगा ।
बेमिसाल सज़ा है,
किसी बेगुनाह के लिए ।

प्यार किया बदनाम हो गए,
चर्चे हमारे सरेआम हो गए,
ज़ालिम ने दिल उस वक़्त तोडा,
जब हम उसके गुलाम हो गए

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है!!!

मेरे कलम से लफ्ज़ खो गए शायद
आज वो भी बेवफा हो गाए शायद
जब नींद खुली तो पलकों में पानी था
मेरे ख्वाब मुझपे रो गाए शायद

Bewafai Shayari for Shayari Lover
Bewafai Shayari for Shayari Lover

कहाँ से लाऊं वो शब्द जो तेरी तारीफ के क़ाबिल हो,
कहाँ से लाऊं वो चाँद जिसमें तेरी ख़ूबसूरती शामिल हो,
ए मेरे बेवफा सनम एक बार बता दे मुझकों,
कहाँ से लाऊं वो किस्मत जिसमें तू बस मुझे हांसिल हो।

सब कुछ है मेरे पास पर दिल की दवा नहीं,
है वो मुझसे पर मैं उससे ख़फ़ा नहीं,
मालूम है कि वो अब भी प्यार करता है मुझसे,
वो थोड़ा सा ज़िद्दी है मगर बेवफ़ा नहीं।

बरसों गुजर गए हमने रो कर नहीं देखा,
आँखों में नींद थी मगर सो कर नहीं देखा,
वो क्या जाने दर्द-ए-मोहब्बत क्या है,
जिसने कभी किसी का होकर नहीं देखा।

दर्द दे गए सितम भी दे गए
ज़ख़्म के साथ वो मरहम भी दे गए
दो लफ़्ज़ों से कर गए अपना मन हल्का
और हमें कभी ना रोने की कसम दे गए।

उनकी मोहब्बत के अभी निशान बाकी है,
नाम लब पर है और जान बाकी है,
क्या हुआ अगर देख कर मुँह फेर लेते हैं,
तसल्ली है कि शक्ल की पहचान बाकी है।

हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।

ये बेवफा, वफा की कीमत क्या जाने !
ये बेवफा गम-ए-मोहब्बत क्या जाने !
जिन्हे मिलता है हर मोड पर नया हमसफर !
वो भला प्यार की कीमत क्या जाने !!

Dard Bhari Bewafa Shayari in Hindi
Dard Bhari Bewafa Shayari in Hindi

अच्छा करते हैं वो लोग जो मोहब्बत का इज़हार नहीं करते…
ख़ामोशी से मर जाते हैं मगर किसी को बदनाम नहीं करते.।।

जरूरी नहीं कि कुत्ता ही वफादार निकले…
वक़्त आने पर आपका वफादार भी कुत्ता निकल सकता है !!!

ये देखा है हमने खुद को आज़माकर,
धोखा देते हैं लोग करीब आकर,
कहती है दुनिया पर दिल नहीं मानता,
कि छोड़ जाओगे तुम भी एक दिन अपना बनाकार।

मेरी वफा के बदले बेवफाई न दिया कर,
मेरी उम्मीद ठुकरा के इन्कार न किया कर,
तेरी मोहब्बत में हम सब कुछ गँवा बैठे,
जान भी चली जायेगी इम्तिहान न लिया कर।

एक तेरी खातिर परेशाँ हूँ मैं,
टूटे दिलों की जुबाँ हूँ मैं,
तूने ठुकराया जिसको अपनाकर,
उसी दीवाने का गुमां हूँ मैं।

अगर दुनिया में जीने की चाहत ना होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनाई ना होती
लोग मरने की आरज़ू ना करते
अगर मोहब्बत में बेवाफ़ाई ना होती!


READ MORE:-

SAD SHAYARI IN HINDI

DARD BHARI SHAYARI IN HINDI

DHOKA BHARI SHAYARI IN HINDI

JUDAI SHAYARI IN HINDI

GAM BHARI SHAYARI IN HINDI


We sincerely hope that you liked this Bewafa Shayari in Hindi. If you liked this Bewafa Shayari, then definitely share it with your friends and broken heart Lover and do also share on social media like Facebook, Whatsapp, Tumblr, VK, and more social handles. If you want Dhoka Shayari in Hindi then you can easily find it in the Category of Dosti Shayari. You can visit our site for this type of trending Hindi Shayari. You will always be welcome in Gam Shayari for this type of Dard Bhari Shayari.

Show 2 Comments

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *