Mujhe Pukara To Hota

तेरी आँखों से काश कोई इशारा तो होता
कुछ ही सही इक जीने का सहारा तो होता

तोड़ देते दुनिया की हदों को हम
एक बार तूने मोहब्बत से पुकारा तो होता…


Teri Aankhon Se Kaash Koi Ishara To Hota
Kuchh Hi Sahi Ik Jeene Ka Sahara To Hota

Tod Dete Duniya Ki Hadon Ko Ham
Ik Baar Toone Mohabbat Se Pukara To Hota…


Mujhe Pukara To Hota
Mujhe Pukara To Hota

रात का अँधेरा कुछ कहना चाहता है….
यह चाँद चाँदनी का साथ रहना चाहता है….

हम तो तनहा ही खुश थे…
मगर पता नहीं क्यों यह दिल अब किसी का साथ रहना चाहता है….


Raat Ka Andhera Kuch Kehna Chahta Hai….
Yeh Chand Chandni Ka Sath Rehna Chahta Hai…

Hum To Tanha Hi Khush The…
Mager Pta Nhi Kyu Yeh Dil Ab Kisi Ka Sath Rehna Chahta Hai…


फूल खिलते है बहारों का समा होता है,
ऐसे मौसम में ही तो प्यार जवां होता है

दिल की बातों को होठों से नहीं कहते,
यह फ़साना तो निगाहों से बयां होता है


Phool Khilte Hai Bahaaron Ka Samaa Hota Hai,
Aise Mausam Mein Hi Toh Pyaar Javaan Hota Hai,

Dil Ki Baaton Ko Hothon Se Nahi Kehte,
Yeh Fasaana Toh Nigaahon Se Bayaan Hota Hai…

Leave a Comment

Your email address will not be published.