Hamne Ahesas Dilana Chhod Diya

यार ने दिल का हाल बताना छोड़ दिया
हम ने भी गहराई मे जाना छोड़ दिया
जब उस को ही दूरी का अहसास नहीं
हम ने भी अहसास दिलाना छोड़ ​दिय


Yar Ne Dil Ka Hal Batana Chor Diya
Hum Ne Bhi Gahrai Mai Jana Chor Diya
Jab Us Ko Hi Dori Ka Ahsas Nahi
Humne Bhi Ahsas Dilana Chor Diya


Hamne Ahesas Dilana Chhod Diya
Hamne Ahesas Dilana Chhod Diya

मयखाने में जाम टूट जाता है
इश्क में दिल टूट जाता है
न जाने क्या रिश्ता है दोनों में
जाम टूटे तो इश्क़ याद आता है
दिल टूटे तो जाम याद आता है


Mayekhane Me Jam Tut Jata Hai
Ishq Me Dil Tut Jata Hai
Na Jane Kya Rishta Hai Dono Me
Jaam Tute To Ishq Yaad Aata Hai
Dil Tute To Jaam Yaad Aata Hai


हर रोज़ मैं कागज़ो को काला करता हूँ
दिल के जज़्बातों को लफ़्ज़ों में निकला करता हूँ
यु तो अँधेरा ही है, रहता दिल के बियाबान में
तेरी यादों के चिराग से हर शाम उजाला करता हु।


Har Roz Mai Kagazo Ko Kala Karta Hun
Dil Ke Jazbato Ko Lafzo Me Nikala Karta Hun
Yu To Andhera Hi Hai, Rehta Dil Ke Biyabaan Me
Teri Yadon Ke Charago Se Har Shaam Ujala Karta Hun

Leave a Comment

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published.